सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

प्रदर्शित

अन्धविश्वास से दूर रहें / moral story in hindi

अन्धविश्वास से दूर रहें
एक बार की बात है एक गांव में एक लड़की रहती थी वह अमीर परिवार से थी परंतु फिर भी वह गरीब के साथ में रहती थी वह लड़की बचपन से ही ईश्वर की पूजा करती थी उसे लगता था कि पूजा करने से शायद भगवान उसकी अराधना सुने जब वह 3 वर्ष की थी तब उसकी मां की मृत्यु हो गई थी उससे अपनी मां का प्यार ना मिलकर बड़े भाई और भाभी का प्यार मिला वह कभी अपनों से खुश नहीं रहती थी क्योंकि उसका साथ खुशियों ने कभी नहीं दिया   


उसके पापा के पास बहुत रुपए थे और काफी खेत भी थे लेकिन इतना सब कुछ होने के बाद भी वह लड़की अपने पापा से कभी बात तक नहीं करती थी वह लड़की का एक दूसरा भाई था जिसकी शादी नहीं हुई थी वह भाई पापा के साथ में रहता था तो पापा उसे बहुत रुपए देते थे लेकिन जो बड़ा भाई था उसे कभी रुपए नहीं देते थे उसी गरीब भाई ने अपनी बहन को पढ़ाया उस लड़की का पढ़ने में कम और पूजा करने में ज्यादा मन लगता था 

वह सुबह शाम हर रोज पूजा करती थी काफी दिन बीत गए लेकिन कभी उसकी मन्यतें पूरी नहीं हुई उसी लड़की की भाभी भी अच्छे से नहीं बोलती थी वह हमेशा सोचती थी कि आखिर उसके साथ में ऐसा क्यों हो र…

हाल ही की पोस्ट

समय का मूल्य - inspirational story in hindi

अच्छी सीख - inspirational story in hindi

Motivational quotes for students in hindi

आम आदमी short story in hindi

दुःख और सुख का अधिकार moral story in hindi

हर लडका गलत नही होता moral story in hindi